TRAI के एक फैसले से मोबाइल यूजर्स को रिचार्ज सस्ता, बंपर ऑफर और कई फायदें, कैसे?

आपके लिए एक बहुत ही अच्छी खबर है। अगर आप मोबाइल यूजर हैं तो यह जानकारी आपके लिए बेहद फायदेमंद है क्योंकि अब 28 दिन के बजाय 30 दिन का रीचार्ज प्लान आपको करना होगा। अब तक आपको 30 दिनों के बजाय 28 दिन या फिर 24 दिनों का रिचार्ज प्लान आपको दिया जाता था लेकिन अब TRAI मतलब भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण अब अगर इसे अंग्रेजी में समझें तो टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने सभी दूरसंचार कंपनियों को सख्त निर्देश दिए हैं।

कैसे TRAI के एक फैसले से मोबाइल यूजर्स को रिचार्ज सस्ता

तो क्या ये पूरा मामला और कैसे होगा आपको लाभ। आइए जानते हैं। TRAI  ने 28 जनवरी को सभी टेलिकॉम कंपनियों को मोबाइल रिचार्ज की वैलिडिटी 28 दिन के बजाय 30 दिन देने का निर्देश दिया। इसके साथ ही टेलिकॉम कंपनी को अपने प्लान में अब एक स्पेशल वाउचर एक कॉम्बो वाउचर पूरे महीने की वैलिडिटी के साथ रखना होगा। बता दें कि टेलिकॉम कंपनियों के मौजूदा प्लान में 28 दिन की वैलिडिटी होती है जिसकी वजह से कस्टमर को एक साल में 13 बार मंथली रिचार्ज कराना होता है। मतलब एक साल में 12 महीने होते हैं और उस हिसाब से 12 बार अगर आप मंथली रिचार्ज करते हैं तो 12 बार रिचार्ज कराना होगा लेकिन कंपनी के हिसाब से आपको 13 बार मंथली रिचार्ज कराना होता था लेकिन TRAI ने अब फैसला बदल लिया है। TRAI ने नया निर्देश जारी किया है। TRAI के इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि ग्राहकों की ओर से एक साल में कराए गए रिचार्ज की संख्या में कमी आएगी। ऐसा होने से ग्राहकों को एक महीने के एक्स्ट्रा रिचार्ज के पैसे भी बचेंगे।

अगर ऐसा होता है तो यह यूजर्स के लिए किसी खुशखबरी से कम नहीं होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि पिछले काफी समय से ही यूजर्स इस बात को लेकर शिकायत कर रहे थे कि टेलीकॉम कंपनियां उन्हें 30 दिन नहीं बल्कि 28 दिन की वैधता देती हैं। ग्राहकों की मानें तो हर माह दो दिन की कटौती कर टेलीकॉम कंपनियां एक साल में तकरीबन 28 से 29 दिन की बचत करती हैं। ऐसे में टेलीकॉम कंपनियों को हर साल 12 की जगह 13 रीचार्ज कराने होते हैं वहीं अगर कोई तीन महीने का रिचार्ज कराता है तो उसे 90 दिनों की वैधता मिलने के बजाय 84 दिन की ही वैधता मिलती है। वहीं दो महीने के रिचार्ज कराने वालों को 60 दिनों की जगह 54 या फिर 56 दिनों की वैधता मिलती है। अब हाल ही में TRAI ने अपने एक रिपोर्ट में कहा है कि पिछले साल नवंबर 2021 के अंत तक मोबाइल कस्टमर की संख्या बढ़कर 119 करोड़ हो गई है। इस दौरान रिलायंस जियो और एयरटेल के कस्टमर की संख्या में काफी बढ़ोतरी देखी गई है। पिछले साल अक्तूबर में रिलायंस जियो ने 17 लाख 6 हजार कस्टमर जोड़े हैं। इसके बाद उसके कुल कस्टमर की संख्या 42 करोड़ 65 लाख के करीब रही तो वहीं एयरटेल के कस्टमर में 4 लाख 89 हजार की कमी देखी गई जिसके बाद कुल कस्टमर की संख्या 35 लाख 39 हजार तक पहुंची जबकि वोडाफोन आइडिया जो कि अब भी आय में बदल चुकी है के कस्टमर 9 लाख 64 हजार कस्टमर की कमी के बाद उसकी कुल संख्या 26 करोड़ 90 लाख हो गई है।

सरकारी दूरसंचार कंपनियां BSNL और MTNL भी नवंबर में ग्राहकों को हासिल करने में विफल रहीं। BSNL ने दो करोड़ 46 लाख 62 मोबाइल ग्राहकों को खो दिया जबकि MTNL ने  4 हजार 318 कनेक्शन को खो दिया।

TRAI ने जो निर्देश जारी किए हैं उसके अनुसार जो प्लान होगा वो उसी तारीख को दोबारा रिचार्ज हो सकेगा और सुनिश्चित किया जा सकेगा जिससे लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। TRAI को इसको लेकर लगातार शिकायतों का सामना करना पड़ रहा था जिस वजह से TRAI ने यह फैसला लिया है या जानकारी बेहद ही ग्राहकों के लिए खुशखबरी भरी है और TRAI के फैसले से ही ग्राहकों को भी काफी लाभ होगा।

Leave a Comment