National Pollution Control Day 2022: क्यों मनाते हैं जानें इसका इतिहास

देश में हर साल 2 दिसंबर को नैशनल पॉल्यूशन कंट्रोल डे मनाया जाता है। क्या है इस दिन का इतिहास क्यों मनाते हैं ये दिन? आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे नैशनल पॉल्यूशन कंट्रोल डे के पीछे की पूरी कहानी।

National Pollution Control Day 2022
National Pollution Control Day 2022

National Pollution Control Day 2022

इन दिनों धरती पर लगातार प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। भारत की बात करे तो कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां सांस लेना इन्सान के लिए मुश्किल हो रहा है। दिल्ली एनसीआर भी इन दिनों पॉल्यूशन के बुरे दौर से गुजर रहा है। ऐसे में नैशनल पॉल्यूशन कंट्रोल डे के महत्व को समझना भी ज़रूरी हो जाता है।

भोपाल में हुई गैस त्रासदी तो आपको याद ही होगी। अगर नहीं आती है तो आपको बता देते हैं। इन दिनों गैस रिसाव के कारण हजारों लोगों ने अपनी जान गंवाई थी। भोपाल के यूनियन कार्बाइड प्लांट से मिथाइल आइसोसाइनेट गैस का रिसाव हुआ था।

उन लोगों को सम्मान देने और याद करने के लिए हर साल भारत में ये दिन मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य उद्योगिक आपदा प्रबंधन और उसके नियंत्रण के लिए जागरूकता फैलाना है। इस दिन के लिए मुख्य थीम वायु प्रदूषण के बारे में लोगों को जागरूक करना है।

इसके अलावा औद्योगिक आपदा को नियंत्रित करने के लिए लोगों को शिक्षित करना है। प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए बनाए गए कानूनों के बारे में लोगों को जानकारी देना भी थीम का हिस्सा है। इसके अलावा इन्सान की लापरवाही से होने वाले औद्योगिक प्रदूषण को रोकना भी इसमें शामिल है।

भोपाल में 1984 में हुए गैस त्रासदी के कारण नैशनल प्रदूषण नियंत्रण दिवस की शुरुआत हुई। दो और 3 दिसंबर को भोपाल के यूनियन कार्बाइड प्लांट में मिथाइल आइसोसाइनेट गैस का रिसाव हुआ था। एक रिपोर्ट के मुताबिक इसमें करीबन 5 लाख लोगों की जान गई थी।

हालांकि मध्य प्रदेश सरकार ने इन मौतों की पुष्टि नहीं की थी। बड़े पैमाने पर फैली इस तबाही में जान गंवाने वाले लोगों को याद करने के लिए हर साल राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस मनाया जाता है।

National Pollution Control Day 2022 Theme

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, व्यापक वायु प्रदूषण और घरेलू वायु प्रदूषण के संयुक्त प्रभाव के कारण हर साल 70 लाख अकाल मृत्यु होती हैं। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि प्रदूषण हमारे स्वास्थ्य को कितनी गंभीरता से प्रभावित करता है। हर साल की तरह इस साल भी इसका थीम प्रदूषण जागरूकता में सुधार करना और सरकारों को प्रदूषण के प्रभाव को कम करने के लिए नीतियों को समायोजित करने के लिए प्रेरित करना होगा।

Web Stories

National Pollution Control Day Quotes

  • “पर्यावरण प्रदूषण एक लाइलाज बीमारी है। इसे केवल रोका जा सकता है।” -बैरी कॉमनर
  • “कभी संदेह न करें कि विचारशील, प्रतिबद्ध नागरिकों का एक छोटा समूह दुनिया को बदल सकता है; वास्तव में, यह एकमात्र ऐसी चीज है जो कभी भी रही है।” -मार्गरेट मीड
  • “वह जो पेड़ लगाता है वह अपने अलावा दूसरों से प्यार करता है।” – थॉमस फुलर
  • “कार्यकर्ता वह व्यक्ति नहीं है जो कहता है कि नदी गंदी है। कार्यकर्ता वह व्यक्ति है जो नदी को साफ करता है। -रॉस पेरोट

Leave a Comment

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जीवनी